computer organization and architecture in hindi

Computer Organization and Architecture in Hindi

Definition of Computer architecture in Hindi:- कंप्यूटर इंजीनियरिंग में कंप्यूटर आर्किटेक्चर किसी कंप्यूटर सिस्टम के आंतरिक कार्यप्रणाली, संरचना और कार्यान्वयन के विषय में बताता है। अगर हम साधारण शब्दों में कहें तो Computer architecture यह बताता है कि किसी कंप्यूटर सिस्टम के सभी अलग-अलग हार्डवेयर उपकरणों की आंतरिक संरचना किस प्रकार की है, यह सभी अलग-अलग हार्डवेयर उपकरण एक दूसरे से जुड़ कर किस प्रकार काम करते हैं और यह हार्डवेयर किसी सॉफ्टवेयर के साथ मिलकर किस प्रकार से काम करता है।

कंप्यूटर आर्किटेक्चर को पढ़ने का मुख्य उद्देश्य भी यही होता है कि हम कंप्यूटर के सभी आंतरिक हिस्सों के काम करने के तरीके को समझ कर ऐसे एप्लीकेशन और सॉफ्टवेयर का निर्माण कर सकें जोकि बेहतर, तेज, सस्ता, उपयोग और विकसित करने में आसान हो।

Need of Computer architecture in Hindi

Need of Computer architecture in Hindi:- कंप्यूटर साइंस एवं इंजीनियरिंग में कंप्यूटर आर्किटेक्चर जैसे विषय की प्रमुख आवश्यकताएं निम्नलिखित रुप से है :-

  • यह कंप्यूटर के हार्डवेयर संरचना एवं उसे बनाने की पद्धति से संबंधित जानकारी देती है अर्थात यह बताता है कि इनपुट/आउटपुट उपकरण, मेमोरी एवं प्रोसेसिंग उपकरण को किस प्रकार से डिजाइन किया गया है।
  • यह कंप्यूटर से जुड़े हुए सभी उपकरणों की कार्यप्रणाली से संबंधित जानकारी देता है अर्थात इसे पढ़कर हम कंप्यूटर से जुड़े हुए उपकरणों की कार्यक्षमता को बढ़ाने के लिए बेहतर पद्धिति का निर्माण कर सकते हैं।
  • किसी उच्च गुणवत्ता वाले सॉफ्टवेयर की जगह यह बहुत जरुरी होता है, की वह कंप्यूटर के मेमोरी में कम जगह अधिकृत करे एवं जल्दी से जल्दी उपयोगकर्ता को output प्रदान करे। इसी कारण इस प्रकार के सॉफ्टवेयर का निर्माण करने के लिए कंप्यूटर हार्डवेयर की मौलिक कार्यप्रणाली का ज्ञान होना बहुत आवश्यक है, क्योंकि कंप्यूटर का प्रोसेसर और मेमोरी डिवाइस किस प्रकार से काम करता है, यह जाने बिना कोई सॉफ्टवेयर इंजीनियर उनसे संबंधित उच्च गुणवत्ता वाले सॉफ्टवेयर का निर्माण नहीं कर सकता।
  • Machine Learning (मशीन लर्निंग), Artificial Intelligence (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) एवं Robotics (रोबोटिक्स) जैसे आधुनिक तकनीक के क्षेत्र में रिसर्च एंड डेवलपमेंट से जुड़े हुए काम करने के लिए मशीन की आंतरिक संरचना एवं मूल कार्य प्रणाली के विषय में ज्ञान होना बहुत आवश्यक है, क्योंकि इन क्षेत्रों में मशीन के साथ बहुत अधिक सूचनाओं का बहुत अधिक आदान-प्रदान किया जाता है।
  • नेटवर्क कनेक्शन की स्थापना के लिए भी कंप्यूटर आर्किटेक्चर की समझ आवश्यक होती है।
  • क्लाउड कंप्यूटिंग, डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम एवं डाटा सेंटर जैसे क्षेत्रों में भी कई बार कंप्यूटर आर्किटेक्चर की मौलिक का ज्ञान की आवश्यकता होती है।

Type of Computer architecture in Hindi

Type of Computer architecture in Hindi:- कंप्यूटर साइंस एवं इंजीनियरिंग में कंप्यूटर आर्किटेक्चर मुख्य रूप से तीन प्रकार का होता है :-

  1. System design (सिस्टम डिज़ाइन) :- जैसा कि आप सभी जानते हैं कि कोई भी कंप्यूटर कई अलग-अलग प्रकार के हार्डवेयर उपकरणों से मिलकर बना होता है। सिस्टम डिजाइन के अंतर्गत इन सभी हार्डवेयर उपकरणों जैसे कि सीपीयू, डेटा प्रोसेसर, मल्टीप्रोसेसर, मेमोरी कंट्रोलर, RAM और ROM आदि को सम्मिलित किया जाता है।
  2. Instruction set architecture (इंस्ट्रक्शन सेट आर्किटेक्चर):- इसमें मुख्य रूप से किसी कंप्यूटर के central processing unit (सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट) अर्थात CPU की कार्यप्रणाली को सम्मिलित किया जाता है। किसी कंप्यूटर का CPU उपयोगकर्ता द्वारा दिए जाने वाले निर्देशों को किस प्रकार से निष्पादित करता है एवं किसी प्रोग्राम या निर्देश के निष्पादन में CPU के सभी हिस्से जैसे कि Arithmetic Logic Unit (अर्थमेटिक लॉजिकल यूनिट), Control Unit(कंट्रोल यूनिट), Register (रजिस्टर) आदि किस प्रकार से काम करता है? इंस्ट्रक्शन सेट आर्किटेक्चर इन सभी विषयों के बारे में बताता है। संक्षेप में कहें तो इंस्ट्रक्शन सेट आर्किटेक्चर किसी प्रोग्राम और इंस्ट्रक्शन के निष्पादन की प्रक्रिया के विषय में विस्तार से बताता है।
  3. Microarchitecture (माइक्रोआर्किटेक्चर) :– माइक्रोआर्किटेक्चर किसी कंप्यूटर के डाटा संग्रहित करने वाले मेमोरी उपकरण जैसे की Hard Disk, पेन ड्राइव, DVD आदि के कार्यप्रणाली से संबंधित है। यह बताता है कि किसी कंप्यूटर के मेमोरी डिवाइस में जानकारियों को जल्दी से कैसे संग्रहित किया जाए एवं जो जानकारियां पहले से संग्रहित है, उन्हें किस प्रकार तेज़ी से एक्सेस किया जाए। यह data processing, storage element or data paths को परिभाषित करता है और उन्हें इंस्ट्रक्शन सेट आर्किटेक्चर में लागू करने का तरीका भी बताता है।

Conclusion on Computer architecture in Hindi:- कंप्यूटर आर्किटेक्चर कंप्यूटर से जुड़े हुए सभी हार्डवेयर उपकरणों की आंतरिक संरचना एवं कार्य प्रणाली से संबंधित ज्ञान है। यह बताता है कि कंप्यूटर के सभी उपकरणों की आतंरिक संरचना कैसी है एवं वो किस प्रकार से काम करते है। इसका उपयोग सॉफ्टवेयर निर्माण, मशीन लर्निंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, डाटा प्रोसेसिंग, नेटवर्क कनेक्शन जैसी विभिन्न प्रकार के कंप्यूटर संबंधी तकनीकों में कई प्रकार से किया जाता है।

कंप्यूटर की आंतरिक कार्यप्रणाली काफी जटिल होता है एवं किसी उपयोगकर्ता द्वारा दिए गए किसी भी छोटे से निर्देश को समझने एवं उन्हें निष्पादित करके आउटपुट प्रदर्शित करने के लिए कंप्यूटर को काफी लंबे नियमों का पालन करना पड़ता है।

इसमें एक भी भूलने कंप्यूटर आर्किटेक्चर को सरल हिंदी भाषा में समझाने का प्रयास किया है। उम्मीद है कि आपको Computer Organization and Architecture in Hindi का यह लेख पसंद आया होगा। अगर आप इस लेख से संबंधित कोई सुझाव हमें देना चाहते हो, तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं। जिससे कि हम अपने लेख में आवश्यक परिवर्तन करके इसे और अधिक उपयोगी बना सकें।

No Responses

Write a response