Data Abstraction in DBMS in Hindi

Data Abstraction in Hindi

Definition of Data Abstraction in DBMS in Hindi:- ऐब्स्ट्रैक्शन शब्द का हिंदी में अर्थ होता है – संक्षेपण अर्थात किसी विषय के विस्तार विवरण को छिपाकर केवल आवश्यक जानकारियों को प्रदर्शित करना ।

DBMS में Data abstraction का उपयोग बाहरी दुनिया को केवल data के संबंध में आवश्यक जानकारीयं प्रदर्शित करने एवं डेटा के पृष्ठभूमि विवरण या कार्यान्वयन को छिपा कर रखने के लिए किया जाता है। दूसरे शब्दों में कहें तो Data abstraction के उपयोग से user को जितने जानकारियों की आवश्यकता है, उतनी ही जानकारियों का है Access दिया जाता है, बाकी जानकारियों को से छुपा कर रखा जाता है।

डेटा ऐब्स्ट्रैक्शन डेटाबेस के आंतरिक जटिल संरचना को किसी सामान्य user से छुपाकर उसके लिए डेटाबेस की प्रक्रिया को काफी सरल बना देता है। इसके साथ ही ऐब्स्ट्रैक्शन के कारण Database सुरक्षित भी हो जाता है क्योंकि कोई भी अनाधिकृत यूज़र डेटाबेस के संवेदनशील जानकारियों को न तो एक्सेस कर पाता है और ना ही उसके साथ कोई छेड़छाड़ कर पाता है।

Example of Data Abstraction in Hindi

Real Life Example of Data Abstraction in Hindi:- आपकी मोटर गाड़ी abstraction का एक बहुत अच्छा उदाहरण है। जब आप चाबी घुमाकर या स्टार्ट बटन दबाकर अपने मोटर गाड़ी को चालू करते है, तब  आपको यह जानने की जरूरत नहीं है, कि इस मोटर गाड़ी का इंजन कैसे शुरू हो रहा है। मोटर गाड़ी की सभी आंतरिक कार्यान्वयन उपयोगकर्ता से छिपा रहता है क्योंकि वास्तव में किसी car के आतंरिक कार्यप्रणाली को समझकर सामान्य उपयोगकर्ता को कोई लाभ नहीं होगा। अगर किसी सामान्य उपयोगकर्ता के समक्ष व्यर्थ की जानकारियों को प्रस्तुत करें तो इससे सिस्टम का स्वरूप और अधिक जटिल हो जाता है इसलिए किसी सिस्टम को सरल और आकर्षक बनाने के लिए ऐब्स्ट्रैक्शन के सिद्धांत का उपयोग रोजमर्रा के सभी तकनीकों में किया जाता है। ठीक इसी प्रकार से Database Management System (DBMS) में डेटा ऐब्स्ट्रैक्शन के उपयोग से डेटा के implementation (कार्यान्वयन) और Background description (पृष्ठभूमि विवरण) को छिपा कर रखा जाता है जीससे की किसी सामान्य उपयोगकर्ता के समक्ष डेटाबेस का एक सरल और सामान्य रूप प्रस्तुत किया जा सके।

Data Abstraction in Object-oriented programming:- डेटा ऐब्स्ट्रैक्शन के पद्धिति का उपयोग Object-oriented programming (OOPs) में भी किया जाता है।

Abstraction ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग जैसे की C++ या Java के सबसे महत्वपूर्ण केंद्रीय सिद्धांतों में से एक है। Object-oriented programming (OOPs) में user की सभी जानकारी Class के अंदर होती है, लेकिन Abstraction के उपयोग से programmer जटिलता को कम करने और दक्षता बढ़ाने के लिए किसी Class में मौजूद गैर जरुरी जानकारियों को object के उपयोग से छुपाता है।

Data Abstraction in Database Management System

Data Abstraction in Database Management System:- DBMS की डेटा संरचना बहुत जटिल होती है, इसलिए सिस्टम को कुशल बनाने और उपयोगकर्ता  की जटिलता को कम करने के लिए, डेवलपर्स डेटा एब्स्ट्रक्शन के उपयोग से उपयोगिता के आधार पर data को तीन भाग में बाँट देते है।

  • Physical level:- यहाँ डेटाबेस की सभी data को भौतिक रूप में वास्तव में जमा किया जाता है। इस स्तर पर डेटा का विस्तार विवरण तथा संपूर्ण जटिल आंतरिक संरचना उपलब्ध होता है। फिजिकल लेबल को एक्सेस करने का अधिकार केवल सिस्टम इंजीनियर (system engineer) या डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर (database administrator) जैसे अधिकृत लोगों को ही होता है।
  • Logical level:- यह Physical और View level के बीच का स्तर है। संपूर्ण डेटाबेस में कौन-कौन से जानकारी जमा है, ये देखने के लिए इसका उपयोग किया जाता है। यह डेटाबेस में संगृहीत जानकारियों के data types, entities, relationships आदि के बारे में बताता है। आमतौर पर database administrator का उपयोग करते हैं |
  • View level:- उपयोगकर्ता से जानकारी लेने के लिए और अवश्यकता के आधार पर जानकारी को प्रदर्शित करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है। कोई भी साधारण उपयोगकर्ता जब डेटाबेस को एक्सेस करता है तो वास्तव में वह इसी view level का उपयोग कर रहा होता है।

Advantages of Data Abstraction in Hindi:- डेटा ऐब्स्ट्रैक्शन के लाभ निम्नलिखित रूप से है :-

  • यह DBMS के आंतरिक संरचना को गैर जरूरी और अनाधिकृत उपयोगकर्ताओं से सुरक्षित करता है क्योंकि अगर डेटाबेस के पूरे संरचना को सभी के समक्ष प्रस्तुत कर दिया जाए तो कोई भी डेटाबेस के आंतरिक संरचना के साथ छेड़छाड़ कर सकता है और डेटाबेस को प्रभावित कर सकता है, लेकिन डाटा एब्स्ट्रेक्शन के कारण डेटा के Background description को छुपकर रखा जाता है और केवल अधिकृत लोग ही उन्हें access कर सकते है। इसके कारण डेटाबेस सुरक्षित रहता है।
  • यह database के स्वरूप को सरल बनाता है क्योंकि अगर किसी सामान भी उपयोगकर्ता के समक्ष बहुत सारी जटिल जानकारियों को प्रस्तुत कर दिया जाए तो उसके लिए इन्हें समझना मुश्किल हो सकता है।
  • इस सिद्धांत का उपयोग database management system में करने से डेटाबेस की गति काफी बढ़ जाती है और user तेजी से आवश्यक जानकारियों को प्राप्त कर सकता है।
  • इस तकनीक का उपयोग करके एक साथ बहुत सारे उपयोगकर्ता डेटाबेस का उपयोग कर सकते हैं क्योंकि सभी अलग-अलग user के समक्ष डेटाबेस का सारांश रूप प्रस्तुत किया जाता है।
  • डेटाबेस को विकसित करने की प्रक्रिया काफी जटिल होती है लेकिन Data abstraction इस जटिल प्रक्रिया को पूरा करने के लिए एक सरलीकृत ढांचा प्रदान करता है, डेटा एब्स्ट्रक्शन के उपयोग से developer आवश्यक तत्वों से शुरू करके अंतिम सिस्टम बनाने के लिए वृद्धिशील रूप से डेटा डिटेल जोड़ सकते है।

Conclusion on Data Abstraction in DBMS in Hindi:- किसी भी डेटाबेस की आंतरिक संरचना काफी जटिल होता है, अगर किसी सामान्य उपयोगकर्ता के समक्ष डेटाबेस के आंतरिक कार्यप्रणाली एवं data structures को प्रस्तुत कर दिया जाए तो उसके लिए इसे समझना काफी कठिन हो जाएगा। इसके साथ ही यह सिस्टम के सुरक्षा को भी प्रभावित कर सकता है क्योंकि इससे कोई भी user डेटाबेस में छेड़छाड़ करके हानि पहुँचा सकता है । इन्हीं कारणों से database management system में Data Abstraction का उपयोग किया जाता है और उपयोगकर्ता को समक्ष केवल उतनी ही जानकारियों को प्रस्तुत किया जाता है जितनी जानकारियों की उसे आवश्यकता है ।

इस लेख में हमने डेटा ऐब्स्ट्रैक्शन को सरल हिंदी भाषा में समझाने का प्रयास किया है, उम्मीद है कि आपको Data Abstraction in DBMS in Hindi का यह लेख पसंद आया होगा। अगर आप इस आर्टिकल से संबंधित कोई सुझाव हमें देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं जिससे कि हम अपने लेख में आवश्यक परिवर्तन करके इसे और अधिक उपयोगी बना सकें।

3

No Responses

Write a response