Deadlock in Operating System in Hindi

What is Deadlock in Operating System in Hindi

Definition of Deadlock in OS in Hindi:- ऑपरेटिंग सिस्टम में deadlock एक ऐसी स्थिति है, जिसमें दो या दो से अधिक computer program अपने निष्पादन को पूरा करने के लिए एक ही संसाधन का उपयोग करना चाहती है।  जिसके परिणामस्वरूप दोनों एक-दूसरे को संसाधन तक पहुंचने से रोकते हैं और दोनों का ही निष्पादन पूरी तरह से रुक जाता है। डेडलॉक एक ऐसी स्थिति को जन्म देता है जब कंप्यूटर के सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट अर्थात CPU ना तो किसी चल रहे प्रोग्राम के निष्पादन को पूरा कर पाता है और ना ही किसी नए प्रोग्राम के निष्पादन को शुरू कर पाता है।

किसी भी Multiprocessing CPU अर्थात ऐसा CPU जिसमें एक ही समय पर दो या दो से अधिक processes ( मतलब की प्रोग्राम या उपयोगकर्ता द्वारा दिया गया कोई निर्देश ) को निष्पादित किया जाता है। उसमें Deadlock की समस्या होना बहुत सामान्य बात है, क्योंकि किसी भी समय दो या दो से अधिक processes के द्वारा सामान Data या  हार्डवेयर डिवाइस जैसे संसाधनों की आवश्यकता पड़ सकती है। कंप्यूटर में डेडलॉक की समस्या के उत्पन्न होने के कई और भी कारण है जिन्हें हम आगे विस्तार से जानेंगे।

जब एक की कंप्यूटर में डेडलॉक की स्थिति उत्पन्न होती है, तो उस कंप्यूटर के द्वारा किए जाने वाले सभी काम रुक जाते हैं तथा कंप्यूटर ना तो किसी प्रोग्राम का निष्पादन कर पाता है और ना ही उपयोगकर्ता के समक्ष किसी आउटपुट का प्रदर्शन कर पाता है। कंप्यूटर में डेडलॉक जैसी स्थिति से निपटने की जिम्मेदारी operating system अर्थात OS की होती है। इसीलिए आधुनिक ऑपरेटिंग सिस्टम में डेडलॉक की स्थिति से निपटने के लिए कई अलग-अलग एल्गोरिथ्म का उपयोग किया जाता है, जिनके विषय में हम आगे पढ़ेंगे।

Condition for Deadlock in OS in Hindi

Main Reason of Deadlocks in Operating System ( OS )  in Hindi :- किसी ऑपरेटिंग सिस्टम में डेडलॉक की समस्या निम्नलिखित चार में से किसी एक स्थिति के उत्पन्न होने से हो सकती है। इन्हे Coffman Conditions के नाम से भी जाना जाता है।

  • Mutual Exclusion :- एक संसाधन को एक समय में केवल एक ही Program के द्वारा उपयोग में लिया जा सकता है, मतलब की कोई भी दो या दो से अधिक प्रोग्राम किसी संसाधन को आपस में साझा नहीं कर सकता।
  • Hold and Wait :- जब कोई प्रोग्राम निष्पादित होते समय जो संसाधन मिल जाते है उन्हें अधिकृत कर लेती है और जो नहीं मिलते उनके लिए इंतजार करती है, इस परिस्थिति में ना तो ये पूरी तरह से निष्पादित हो पाती है और ना कि दूसरे प्रोग्राम जो इसके द्वारा अधिकृत किए गए संसाधनों का उपयोग करना चाहती हैं उन्हें निष्पादित होने देती है।
  • No preemption :- जबतक किसी प्रोग्राम का निष्पादन पूरा नहीं हो जाता तबतक उसके संसाधनों का उपयोग किसी दूसरे के द्वारा नहीं किया जा सकता मतलब की पहले प्रोग्राम का निष्पादन रुका हुआ हो फिर भी कोई दूसरा उसके संसाधनों का उपयोग नहीं कर सकता।
  • Circular Wait :- पहला program, दूसरी program द्वारा अधिकृत संसाधनों की प्रतीक्षा कर रही है, इसी समय दूसरी program तीसरे program द्वारा अधिकृत संसाधनों की प्रतीक्षा कर रही है और इसी तरह, अंतिम program पहली प्रक्रिया द्वारा अधिकृत संसाधन की प्रतीक्षा कर रही है। इसप्रकार एक गोलाकार श्रृंखला बना जाता है जहाँ कोई भी प्रोग्राम पुरे तरह से निष्पादित नहीं हो पाता है।

Deadlock Detection and Handling Methods in Hindi

Deadlock Detection by OS in Hindi :- Operating System ( OS )  के द्वारा deadlock का पता लगाने के लिए resource scheduler का उपयोग किया जा सकता है क्योंकि resource scheduler के द्वारा उन सभी संसाधनों पर नज़र रखता है, जिन्हें विभिन्न प्रोग्राम या प्रक्रियाओं के लिए आवंटित किया गया है। एक deadlock का पता चलने के बाद, इसे निम्नलिखित विधियों का उपयोग करके हल किया जा सकता है:-

Methods for handling deadlock in Hindi :- डेडलॉक की समस्या से तीन प्रकार से निपटा जा सकता हैं

  • हम किसी प्रोग्राम द्वारा अधिकृत किये गए संसाधनों को लेकर किसी दूसरे को दे सकते है, जीससे की पहले किसी एक program का निष्पादन पूरा हो जाये।
  • उन परिस्थितियों में जहां deadlock होने की संभावना है, उनमे Operating System समय-समय पर प्रत्येक प्रक्रिया की स्थिति का रिकॉर्ड बना सकता है और जब deadlock होता है, तो पुरे प्रक्रिया ख़तम कर के पुनरारंभ कर सकता है, और दूसरे बार संसाधनों का आवंटन अलग प्रकार से कर सकता है।
  • हम एक या अधिक प्रोग्राम को अभी के लिए पुरे तरह से रोक सकते है या उनका अंत कर सकते है, जिससे की किसी एक program का निष्पादन पूरा हो जाये।

[Note:- कई बार ऐसा भी होता है कि ऑपरेटिंग सिस्टम अपने डेडलॉक की स्थिति से निपटने में असफल रहता है या उसे इस स्थिति से निपटने में बहुत अधिक समय लग जाता है, ऐसी स्थिति में कंप्यूटर को Restart करना ही बेहतर समझा जाता है ]

Conclusion on Deadlocks in Operating System in Hindi:- सबसे पहले कंप्यूटर में एक समय पर केवल एक ही program और Instructions ( निर्देश ) को निष्पादित किया जाता था। इसलिए कंप्यूटर के सभी संसाधन एक ही program के लिए उपलब्ध होते थे और कभी भी डेडलॉक जैसे समस्या उत्पन्न नहीं होती थी।

लेकिन समय के साथ धीरे-धीरे कंप्यूटर के कार्यक्षमता को विकसित किया जाने लगा और उपयोगकर्ता द्वारा दिए जाने वाले आदेशों के अनुसार जल्दी से जल्दी Output प्रदान करने की मांग बढ़ने लगी।  इसीलिए ऐसे CPU बनाए गए जिनमें एक ही समय पर एक से अधिक Program और आदेशों को निष्पादित किया जा सके परिणाम स्वरूप deadlock जैसी समस्या उत्पन्न हो गई।

लेकिन सभी Operating System में deadlock की समस्या से निपटने के उपाय भी होते हैं, वर्तमान समय में किसी प्रोग्राम को निष्पादित करने से पहले या जांच लिया जाता है कि उस प्रोग्राम को किन संसाधनों की आवश्यकता पड़ने वाली है और दो या दो से अधिक प्रोग्राम को एक साथ निष्पादित किया जाए तो किसी प्रकार का गतिरोध तो उत्पन्न होगा हो सकता है। इससे डेडलॉक इस समस्या को उत्पन्न होने से पहले ही रोका जा सकता है।

इस लेख में हमने सरल हिंदी भाषा में समझाने का प्रयास किया है की ऑपरेटिंग सिस्टम में डेडलॉक क्या होता है । उम्मीद है कि Deadlocks in Operating System in Hindi का यह लेख आपको पसंद आया होगा। अगर आप इसमें से संबंधित कोई सुझाव हमें लेना चाहते हैं, तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं कि हम अपने लेख में आवश्यक परिवर्तन करके इसे और अधिक उपयोगी बना सकें।

3

No Responses

Write a response