GST Kya hai? | GST Full Form in Hindi

GST Kya hai? | GST Full Form in Hindi

GST Kya hai? | GST Full Form in hindi: GST क्या है? GST का Full Form क्या है? इस तरह की कई सवाल आपके मन में आया कहते होंगे. यह किस तरह का कानून है।

GST जैसे बनाए गए सरकार द्वारा कानून से क्या फायदे हो सकते हैं। सरकार द्वारा बनाए गए GST कानून से हमको क्या नुकसान है इस तरह के कई सवाल आपके मन में उठते होंगे।

आपके इन सभी सवालों का उत्तर हम आपको अपनी इस पोस्ट में देने की पूरी कोशिश करेंगे।

What is GST in Hindi (जीएसटी क्या है):

[su_note note_color=”#71ff66″]GST एक तरह का Tax है। बाजार से जो भी वस्तु हम खरीदते हैं उन सब वस्तुओं पर tax लगता है।जिनकी जानकारी हमें बहुत ही कम होती है. GST का फुल फॉर्म “Goods and Services Tax”  होता है। जिसको सरकार द्वारा 1 जुलाई 2017 को लागू किया गया था।[/su_note]

GST को लागू करने से पहले सरकार ने बाकी सभी tax को हटा कर सिर्फ GST tax कानून को ही लागू कराया।

GST tax की जानकारी हर व्यक्ति को होना बहुत ही जरूरी है।क्योंकि हम हर वस्तुओं को अपनी जरूरत के मुताबिक खरीदते रहते हैं।

सभी वस्तुओं पर tax लगते हैं हम को इन Tax का भली प्रकार से ज्ञान नहीं होता। इसलिए GST जैसे सरकार द्वारा बनाए गए कानून के अंतर्गत हमें tax संबंधित सभी चीजों का भली प्रकार से ज्ञान प्राप्त होना सहिये।

GST Full Form in Hindi (GST का Full Form क्या है):

[su_note]GST का Full Form in Hindi  में  Goods and Services Tax होता है।[/su_note]

When GST was implemented (GST kab Lagu Hua?)

GST Full Form

GST Full Form

पहले GST one tax one nation के रूप में शुरू करने का decision लिया गया था। पर ये कार्य बीच में ही अटका रहा। GST Modi Sarkar द्वारा लागू किया गया कानून है।मोदीसरकार दल के वित्त मंत्री अरुणजेटली कापूरा सहयोग था।भारत में GST जैसा कानून बनाना एक बहुत बड़ा कदम था।जिसको मोदी सरकार ने पूर्ण किया।

GST:

लोग सुविधा और अपनी lifestyle के अनुसार अपनी जरूरत का सामान खरीदते हैंउन चीजों का लाभ लेते हैं GST उन्हीं चीजों पर लागू की जाती है। आम भाषा में कहे तो GST हमारी जरूरत के सामानों पर लगे Tax को कहते हैं।

Goods:

हम रोज अपनी जरूरत के हिसाब से खाने पीने से लेकर इस्तेमाल होने वाली चीजें खरीदते रहते हैं। उन चीजों पर सरकार हमसे goods tax वसूलती है. हम उन सभी चीजों पर goods tax देते हैं।

Services:

हम जिस सेवाओं और सुविधाओं का अपने जीवन में लाभ उठाते हैं उन सब सेवाओं पर service tax लगता है चीजों का इस्तेमाल करने से लेकर सेवाओं और सुविधाओं पर भी service tax लगते हैं।

How does GST Work (जीएसटी काम कैसे करता है):

जिन जगहों पर सामान और सेवाएं उपलब्ध होती है यह tax वहीं लगता है. GST tax जहां से आप अपनी जरूरत का सामान लेंगे यह टैक्स वही लगेंगे कुछ अलग तरह के भी tax लगते हैं जैसे इन चीजों पर Excise duty,Central sales tax, Additional excise duty, Vat,luxury tax, Service tax को वस्तु सेवा आदि में शामिल किया जाता है. इन चीजों पर सिर्फ एक ही बार टैक्स देते हैं।यह बार-बार टैक्स देने की समस्या नहीं होगी।

How Does GST Work in India (जीएसटी इंडिया में किस तरह काम करती है)

India में GST कानून लागू होने के बाद GST किस तरह काम करती हैं हम आपको इसके अंतर्गत होने वाले कार्य को बताते हैं।आप अपनी रोजमर्रा की जरूरत के लिए जिन चीजों का इस्तेमाल करते हैं उन चीजों से आप से वाएं प्राप्त करते हैं।

क्या आपने कभी सोचा है ?जिन चीजों का आप लाभ उठाते हैं।उनचीजों को आप तक पहुंचने से पहले किन-किन चरणों से गुजरना पड़ता हैकई तरीके के taxसे होकर चीजें आपतक पहुंचती है।कोई भी company productबनाने के लिए कच्चा माल लेतीहै।अपना productतैयार करती है।

उस productकोcompany wholesalerको देती हैं।उसपरवैटExciseduty लगायीजातीहै।Wholesaler इसीसामान सेVAT जोड़करretailer कोबेचताहैअब आप समझ चुके होंगे की वस्तुएं ज्यादा महंगी क्यों हो जाती है क्योंकि उनको कई तरह के taxसे गुजरना पड़ता है

जिससे कुछ चीजों के दाम बढ़ जाते हैं और कुछ चीजों के दाम घटजाते हैंआप अच्छे से समझ चुके होंगे कि GSTकिस तरह काम करता है।

(Types of GST in Hindi)जीएसटी कितने प्रकार की होती है

अब हम आपको बताते हैं कि GST कितने प्रकार की होती है? GSTको चार भागों में विभाजित किया गया है। GSTचार प्रकार की होती है।GSTको 4 अलग भागों में बांटा गया है।

  • CGST- Central Goods and Services Tax
  • SGST- State Goods and Services Tax
  • IGST- Integrated Goods and Services
  • CGST/UTGST-Union Territory Goods and services tax
  • CGST- Central Goods and ServicesTax

What is CGST?

CGST का full form Central Goods and Services Taxहैयह tax governmentखातों में जमा होता हैयह taxराज्य के अंदर लेनदेन करने पर cgst taxवसूलकियाजाता है।

What is SGST?

SGST का full form State Goods and ServicesTaxहैं। यह taxभी सरकार अपने खाते में वसूल करती हैंयह taxभीराज्य के अंतर्गत होनेवालीलेनदेन की वस्तुओं परलगाए जाने वाला tax है।

What is IGST?

IGSTकाfull form -Integrated Goods andServices Taxहैं। जब कुछ वस्तुएं वहसुविधाओं का आदान-प्रदान एक राज्य से दूसरे राज्य के अंतर्गत पहुंचाया जाता है। तो इन वस्तुओं पर taxलगता है इन taxकी वसूली दोनों stateवसूल करते हैं। State वहCentral governmentभी वसूल किया करती हैं।

What is CGST/UTGST?

का full form Union TerritoryGoods and Services Taxहै।भारत शासित प्रदेश के 5 केंद्र हैं।जहां से सुविधा और वस्तुओं का आदान प्रदान करने परCGST/UTGST लागू होता है।इनकेंद्रशासितप्रदेशमेंजैसेअंडमानएंडनिकोबार,दादरनगरहवेली, लक्षद्वीप,चंडीगढ़, दमनऔरदीव इन केंद्रोंमेंGST केअलावाभी कई taxवसूल किए जाते हैं।

Advantage and Disadvantage of GST:

GSTलागू होने से पहले बहुत से लोग GSTके खिलाफ विरोध कर रहे थे।लोगों को इस बात का भी ज्ञानन था किGST क्या होती है GST को 30 जून रात 12:00 बजे के बाद पूरे भारत में लागू कर दिया गया है.

अब लोगों कोGSTकानून की भली प्रकार से जानकारी हासिल हो गई है और आप में से कुछ लोग ऐसे भीहैंजिनको GSTके फायदे और नुकसान के बारे में नहींपता है?

तो इस मेंघबराने की बात नहींहै हम आपको GSTके फायदे और नुकसान दोनों से परिचय कराएंगे।

Benefits of GST:

GST लागू होने से कई फायदे हुए हैंजिनमें से कुछ फायदेहम आपको बताने जा रहे हैं जो GSTलागू होनेसेकाफीबेहतरहोचुकीहैं

Tax exemption of tax टैक्स पर टैक्स से छुटकारा:

Taxलागू होने से हमको एक ही वस्तु का बार-बार taxदेने से छुटकारा मिला है।

Getting the same in the states at the same price राज्यों में समान का एक ही दाम पर मिलना:

पहले किसी भी राज्य से सामान लेने पर सामानों पर अधिक tax लगता था परंतु GST लागू होने से सभी state राज्यों में एक ही दामोंपर चीजें प्राप्त हो रही है। GST लागू होने से आम जनता को काफी फायदा हुए हैं।

Reduction In tax related correction टैक्स से जुड़े corruption में कमी:

GST लागू होने से सबसे बड़ा यह भी पैदा हुआ है किtaxके ऊपर दूसरा taxकी हेराफेरी से आम जनता को काफी फायदा हुआ हैTax लागू होने से किसी भी प्रकार की हेरा फेरी करने का कोई रास्ता नहीं है।

Benefits in goods of service वस्तु और सेवाओं में फायदे

पहले जिन चीजों और सेवाओं का लाभ उठाने के लिए 35 से 30% taxदिया जाता था taxलागू होने से वह taxअबसिर्फ 20 से 25 प्रतिशत हो गया है।जिससे आम जनताको फायदा हुआ है।

GST implementation disadvantage जीएसटी लागू होने के नुकसान

जिस प्रकारGSTलागू होने के फायदे हुए हैं। उसी प्रकार इस नियम के लागू होने से बहुत सारे नुकसान भी हुए हैं।

Loss heel service tax increase Service tax में बढ़ो तरीके नुकसान

GSTलागू होने से सबसे ज्यादा नुकसान serviceकरने वालों को हुआ है। India 60% GDP service sectorके अंतर्गत आता है।14.5% था। GSTलागू होने से वही टैक्स 18% बढ़ चुका है।

Reduction in state income (State income मेंकमी)

State incomeलागू होने के नुकसान को सरकार 5 साल तक भरपाई करेगीGST लागू होने से बहुत सारे राज्यों के फायदेमें कमी आई है।

Increase in banking effective tax in banking: (Bankingमेंeffective tax मेंबढ़ोतरी)

पहले Tax interestनहीं लगता था।GSTनियम लागू होने के बाद 18% taxलग रहे हैं।GSTलागू होने से सबसे ज्यादा नुकसान bank debit cardआदि चीजों को काफी नुकसान पहुंचा।

Objectives to implement GST (जीएसटी लागू करने के उद्देश्य)

मोदी सरकार द्वारा GST कानून लागू करने का एक ही उद्देश्य था कि सभी tax को हटाकर एक taxही लिया जाए One nation one tax इसका मुख्य उद्देश था मोदी सरकार द्वारा शुरू किया हुआ GST कानून काफी सफलता प्राप्त कर रहा है पूरे देश में इस नियम के लागू होने का अब काफी अच्छा प्रभाव पड़ा है.

[su_table responsive=”yes”]

RTI Full Form

SSLC Full Form

FMCG Full Form in

UPS Full Form

GDP Full Form

B.Ed Full Form

CO Full Form

TRP Full Form

[/su_table]

[su_divider top=”no” divider_color=”#163890″]

Conclusion:

मैं उम्मीद करती हूं कि आपको मेरी GST Full Form in Hindi पोस्ट पसंद आई होगी। इस पोस्ट के ज़रिए हमने GST kya hai, जीएसटी की पूरी जानकारी के साथ ही साथ हमने आपको जीएसटी कितने प्रकार की होती हैं विस्तार से बताया है।

जीएसटी से होने वाले लाभ और नुकसान और जीएसटी के क्या उद्देश क्या है। जीएसटी नियम को किसने लागू किया।सभी चीजों की जानकारी हमने अपनी इस पोस्ट में आपको विस्तार से दी है। मै उम्मीद करती हूं।

आपको मेरी यह पोस्ट पसंद आई होगी।आप मेरी इस पोस्ट को Share करना ना भूलें।

5

No Responses

Write a response