microcontroller in hindi

What is Microcontroller in Hindi

Definition of Microcontroller in Hindi:- माइक्रोकंट्रोलर एक छोटा कंप्यूटर है, जोकि एक विशिष्ट सिस्टम के साथ जुड़ा होता है ताकि उनके कार्यों को संचालित कर सके।  जैसे कि डिजिटल कैमरा या  वाशिंग मशीन की जानकारीयों को प्रदर्शित करने के लिए उसमें एक Microcontroller होता है। माइक्रोकंट्रोलर में इनपुट, आउटपुट, प्रोसेसिंग और मेमोरी (RAM, ROM, EPROM) से संबंधित सभी आवश्यक उपकरण एक integrated circuit (इंटीग्रेटेड सर्किट) या चिप के ऊपर जुड़ी होती है।

माइक्रोकंट्रोलर का आकर छोटा और मूल्य सस्ता होता है तथा इसे चलाने के लिए बहुत ही कम विद्युत क्षमता की आवश्यकता होती है। इसी कारण के छोटी बैटरी के मदद से ही चलाया जाता है। इन सभी विशेषताओं के कारण माइक्रोकंट्रोलर की मदद से ऐसे उपकरण का निर्माण किया जा सकता है, जिन्हें आसानी से स्थान से दूसरे स्थान पर लाया और ले जाया जा सकता है। अलग-अलग उपकरणों में लगे माइक्रोकंट्रोलर की कार्यक्षमता भी अलग होती है उदाहरण के लिए किसी टीवी रिमोट में लगे माइक्रोकंट्रोलर का काम है, उनके सिगनल को नियंत्रित करना जबकि किसी Car में लगे माइक्रोकंट्रोलर का काम है कार की Speed और बचे हुए पेट्रोल की जानकारी देना। इसीलिए माइक्रोकंट्रोलर के हार्डवेयर की संरचना भी अलग होती है।

Features of a MicroController in Hindi

Main Features of a Micro-Controller in Hindi:- माइक्रोकंट्रोलर की विशेषताएँ निम्नलिखित रुप से है

  • एक माइक्रोकंट्रोलर आंतरिक रूप से सभी सुविधाओं से युक्त होता है और एक छोटे कंप्यूटर के रूप में कार्य करता है , इसे काम करने के लिए किसी बाहरी उपकरण से जोड़ने की आवश्यकता नहीं होती है।
  • माइक्रोकंट्रोलर का उपयोग बहुत अधिक किफायती है क्योंकि इसका आकार बहुत छोटा होता है और जरुरत के अनुसार इसमें बदलाव करना भी आसान होता है।
  • इसमें बहुत कम बिजली की जरुरत होती है, इसलिए एक छोटी बैटरी से भी इसे बहुत लंबे समय तक चलाया जा सकता है।
  • इसके Software के Settings को आवश्यकता के अनुसार बदला भी किया जा सकता है साथ ही पुराने को delete कर के नया सॉफ्टवेयर भी डाला जा सकता है।
  • अधिकांश माइक्रोकंट्रोलर के साथ नए hardware उपकरणों को जोड़ने के लिए आवश्यक Port भी उपलब्ध होता है, उदाहरण के लिए किसी MP3 Player में नए गाने सुनने के लिए Pen Drive या मेमोरी कार्ड लगाने की जगह होती है।

Types of Microcontrollers in Hindi

Types of Microcontrollers in Hindi :- माइक्रोकंट्रोलर्स को bits, मेमोरी, आर्किटेक्चर और इंस्ट्रक्शन सेट के आधार पर विभिन्न श्रेणियों में बांटा गया है ।  इनके कुछ महत्वपूर्ण प्रकार निम्नलिखित रुप से हैं:-

    • Classification based on Bits :- कोई Microcontrollers एक समय पर कितनी जानकारियों को process करने में सक्षम है, यह किस बात पर निर्भर करता है कि उसमें कितने Bit का CPU लगा हुआ है। ये आमतौर पर 8 bit, 16 bit, 32 bit और 64 bit के श्रेणी में होते है।
    • Classification based on Memory :- मेमोरी के आधार पर माइक्रोकंट्रोलर को दो भागों में बांटा गया है
      • Embedded memory microcontroller :- अगर माइक्रोकंट्रोलर इस प्रकार से बना हुआ है कि प्रोग्राम और data जमा करने के लिए इसमें एंबेडेड मेमोरी माइक्रोकंट्रोलर कहते है।
      • External memory microcontroller :- अगर प्रोग्राम और data को इंस्टॉल करने के लिए उसमें जगह नहीं है, मतलब कि बाहरी मेमोरी डिवाइस की आवश्यकता होगी तो इसे एक्सटर्नल मेमोरी माइक्रोकंट्रोलर कहा जाता है।
    • Classification based on Instruction Set :- Instruction Set के आधार पर माइक्रोकंट्रोलर दो प्रकार के होते हैं,
      • RISC (Reduced Instruction Set Computer) :- यह कुछ सीमित निर्देशों को बहुत तेजी से निष्पादित करने में समर्थ हैं।
      • CISC (Complex Instruction Set Computer) :-  यह जटिल निर्देशों को निष्पादित करने में समर्थ हैं लेकिन RISC की तुलना में धीरे काम करता है।

Advantages of Microcontroller in Hindi :-

  • आज के समय में Technology ने मानव के जीवन को इतना आसान बना दिया है जितना पहले कभी नहीं था। आज ऐसे मशीन बन गए हैं जो आग लगने पर अपने कि आग लगने पर अपने आप Alarm बज जाता है। Drone और Robots के उपयोग से सामानों को एक जगह से दूसरी जगह पर पहुंचाया जा रहा है , बिना ड्राइवर की गाड़ियां बाजार में आ चुकी है। इन सभी उपकरणों में माइक्रोकंट्रोलर लगा होता है, जो इनके दिमाग की तरह काम करता है, इसलिए टेक्नोलॉजी के इस विकास का श्रेय माइक्रोकंट्रोलर को भी जाता है।
  • औद्योगिक मशीनों और प्रक्रियाओं के स्वचालन में microcontroller का बहुत योगदान है, इस समय सभी manufacturing company आधुनिक मशीनों के उपयोग से कम क़ीमत और समय में सामानों का उत्पादन करने में सक्षम है।
  • माइक्रोकंट्रोलर बहुत सस्ता और छोटा होता है इसलिए कई बार किसी बहुत बड़े उपकरण को बनाने से पहले माइक्रोकंट्रोलर के उपयोग से उसका छोटा मॉडल बनाया जाता है, और project को Test किया जाता है। इस प्रकार अध्ययन और रिसर्च के क्षेत्र में भी यह बहुत उपयोगी है।
  • माइक्रोकंट्रोलर सस्ते कीमत पर तथा कम विद्युत से चलने वाले इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के निर्माण को संभव बनाता है।
  • माइक्रोकंट्रोलर के उपयोग से बनाए गए उपकरणों का रखरखाव करना बहुत आसान होता है। इन्हें बैटरी के मदद से आसानी से संचालित किया जा सकता है, तथा छोटे आकार के होने के कारण इन्हें आसानी से एक स्थान से दूसरे स्थान तक लाया और ले जाया जा सकता है।
  • यह पूर्व नियोजित कामों को काफी तेजी से ना करने में सक्षम है।
  • यह बाजार में काफी कम कीमत में आसानी से उपलब्ध है।

Disadvantages of the Microcontroller in Hindi:-

  • माइक्रोप्रोसेसर की तुलना में माइक्रोकंट्रोलर की संरचना अधिक जटिल है।
  • माइक्रोकंट्रोलर की processing क्षमता काफी कम होती है, इसलिए यह छोटे तथा पहले से सुनिश्चित कामों को ही कर सकता है। जटिल कामों को करने में इसका उपयोग नहीं होता है।
  • चूँकि माइक्रोकंट्रोलर एक सीमित संख्या में ही जानकारियों को स्वीकार कर सकता है, इसलिए उच्च क्षमता वाले मशीन के साथ इसे सीधे नहीं जोड़ा जा सकता।
  • माइक्रोकंट्रोलर का आकार इतना छोटा होता है कि एक बार अगर ये खराब हो जाए तो इसे ठीक करना काफी मुश्किल हो जाता है, इसलिए इन्हें बदलने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचता।
  • माइक्रोकंट्रोलर को रिप्रोग्राम नहीं किया जा सकता है अर्थात इसमें एक बार जिस प्रोग्राम को install कर दिया गया उसे बदला नहीं जा सकता। इसी कारण माइक्रोकंट्रोलर का उपयोग केवल पूर्व नियोजित कामों में ही किया जा सकता है। उदाहरण के लिए अगर किसी माइक्रोकंट्रोलर को टेप रिकॉर्डर के साथ जोड़ा दिया गया है तो उस माइक्रोकंट्रोलर की मदद से केवल Audio ही Play किया जा सकते हैं। उसमें किसी दूसरा काम नहीं किया जा सकता।
  • यह complementary metal-oxide-semiconductor (CMOS) से बना होता है, इसी कारण यह बिजली के झटकों या static इलेक्ट्रिसिटी के प्रभाव में आकर खराब हो सकता है।

Conclusion on Microcontroller in Hindi:- माइक्रोकंट्रोलर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है, जिसे छोटे आकर का कंप्यूटर भी कहते है। इसमें इनपुट, आउटपुट, मेमोरी, सीपीयू सभी एक ही इंटीग्रेटेड सर्किट से जुड़ा होता है। इसका उपयोग आमतौर पर किसी दूसरे मशीन को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है, उदाहरण के लिए microwave, digital camera, television, car audio system, remote control जैसे सभी उपकरणों में एक माइक्रोकंट्रोलर जुड़ा होता है, ताकि उन मशीनों के गतिविधियों को प्रबंधित किया जा सके। आजकल education और research संबंधी कामों में भी उपयोग होने वाले raspberry pi और arduino जैसे उपकरण भी माइक्रोकंट्रोलर का ही एक उदाहरण है।

इस लेख में हमने माइक्रोकंट्रोलर को सरल हिंदी भाषा में समझाने का प्रयास किया है। उम्मीद है कि आपको Microcontroller in Hindi का यह लेख पसंद आया होगा। अगर माइक्रोकंट्रोलर से संबंधित कोई सुझाव हमें देना चाहते हैं, तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं जिससे कि हम अपने लेख में परिवर्तन करके इसे और अधिक उपयोगी बना सकें।

No Responses

Write a response