unit testing in software engineering in hindi

What is Unit Testing in Hindi

Definition of Unit Testing in Hindi:- यूनिट टेस्टिंग सॉफ्टवेयर परीक्षण का एक तकनीक है, इसमें किसी सॉफ़्टवेयर के Source Code के सबसे छोटे भाग को इकाई  / घटक मान कर उसका परीक्षण किया जाता है। Software Engineering में यूनिट टेस्टिंग का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है, कि सॉफ़्टवेयर की प्रत्येक इकाई ठीक से कार्य करे।

unit किसी भी Code का सबसे छोटा परीक्षण योग्य हिस्सा होता है।  Procedural programming जैसे की BASIC, Pascal and C में हम function, procedure को प्रोग्राम का सबसे छोटा यूनाइट कह सकते है। object-oriented programming जैसे की JAVA, C++, Python में हम class , method को program का सबसे छोटा unit कह सकते है।

यह WhiteBox testing का एक भाग है। software testing की प्रक्रिया में UNIT TESTING सबसे पहला चरण है। इसे integration testing से पहले किया जाता है। आमतौर पर  developers या quality assurance engineers के द्वारा Unit Testing किया जाता है।

Why Unit Testing is Important in Software Testing (सॉफ्टवेयर टेस्टिंग की प्रक्रिया में यूनिट टेस्टिंग क्यों जरूरी है )?

  • source code में लिखे सभी function और procedure ठीक से काम या नहीं इसकी जाँच Unit Tests की मदद से हो जाती है।
  • Unit Tests सॉफ्टवेयर विकास के आरंभिक चरणों में ही error को ठीक करता है, जिससे भविष्य में होने वाले समस्या पहले ही समाप्त हो जाती है।
  • यह डेवलपर्स को Source Code समझने और उन्हें जल्दी से बदलाव करने में सक्षम बनता है।
  • यूनिट परीक्षण कोड को अपने नए प्रोजेक्ट के लिए पुन: उपयोग में मदद करते हैं।

Type of Unit Testing in Hindi

Type of Unit Testing in Hindi ( यूनिट टेस्टिंग के प्रकार ) :- Unit Testing  2 प्रकार के होते हैं: Manual, और Automated.

Manual:- सॉफ्टवेयर डेवेलपर्स के द्वारा प्रोग्राम के source code की जाँच करना manual unit test कहलाता है।

Automated:- Automated Unit Testing  के लिए tool का उपयोग किया जाता है ये tools code में से error को अपने आप ढूंढ के निकल लेती है। कुछ प्रमुख Unit Testing Tools निम्नलिखित है –

  • Junit – Java program को test करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है।
  • NUnit – सभी .net languages को टेस्ट करने के लिए NUnit  का उपयोग किया  है।
  • EMMA – Java language के कोड को टेस्ट करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है।
  • PHPUnit – PHP program को टेस्ट करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है।

Advantage and Disadvantages of Unit Testing in Hindi

unit testing in software engineering in hindi

Unit Testing in Software Engineering in Hindi

Advantage of Unit Testing in Software Engineering in Hindi:-

  • प्रोग्राम में मौजूद सभी गलतियों को डेवलपमेंट के टाइम पर ही निकाल दिया जाता है जिससे समय और पैसे की बचत होती है।
  • यूनिट टेस्टिंग में सभी अनावश्यक कोड बाहर निकाल दिए जाते हैं जिससे source Code छोटा हो जाता है। यह कोड के गुणवत्ता को भी बढ़ने में मदद करता है।
  • Unit Testing करने के लिए हमें पूरे सॉफ्टवेयर के बनकर तैयार होने का इंतजार नहीं करना पड़ता, प्रोग्राम का एक मॉड्यूल तैयार होते ही डेवलपर उस पर यूनिट टेस्ट कर सकता है, इससे समय की बचत होती है।
  • यूनिट टेस्टिंग करने के लिए किसी विशेष प्रकार के क्षमता वाले निरीक्षकों के टीम की आवश्यकता नहीं होती बल्कि साधारण सॉफ्टवेयर इंजीनियर जो प्रोग्राम का कोड लिखते हैं उन्हीं के द्वारा इसे किया जाता है।
  • यह सॉफ्टवेयर परीक्षण के प्रक्रिया में लगने वाले कुल समय, workforce और लगत को कम करता है क्योंकि अधिकांश गलतियों को उन डेवलपर के माध्यम से ही ठीक कर लिया जाता है जो सॉफ्टवेयर का निर्माण करते हैं।

Disadvantages of Unit Testing in Hindi:-

  • Unit testing के बाद प्रोग्राम को पूरी तरह से error free नहीं कह सकते, मतलब यूनिट टेस्टिंग के बाद भी प्रोग्राम में कई तरह की गलतियां मौजूद रहते हैं।
  • आमतौर पर यूनिट टेस्टिंग का काम उन्हीं डेवलपर्स के द्वारा किया जाता है, जो प्रोग्राम को बनाते हैं ऐसे में कई बार डेवलपर्स कई कारणों से गलतियों को ignore कर देते है।

Best Practices for Unit Testing in Hindi:-

  • यूनिट टेस्ट के दौरान मिलने वाले गलतियों को जब तक ठीक ना कर लिया जाए तब तक सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट के काम के अगले चरण की शुरुआत नहीं करनी चाहिए ।
  • यूनिट टेस्ट की प्रक्रिया में प्रत्येक यूनिट को स्वतंत्र रूप से जांचना चाहिए एवं एक बार में केवल एक ही यूनिट का परीक्षण किया जाना चाहिए।
  • यूनिट टेस्टिंग की प्रक्रिया में अगर कोड के किसी एक यूनिट में कोई परिवर्तन किया जा रहा हो तो इस बात का ध्यान रखना चाहिए यह परिवर्तन प्रोग्राम के दूसरे यूनिट जो इस यूनिट पर निर्भर है उन्हें किस प्रकार से प्रभावित करेगा।
  • यूनिट टेस्ट कर रहे डेवलपर्स को सिर्फ Code में मौजूद गलतियों को ढूंढने पर ध्यान देना चाहिए ।

Conclusion on Unit Testing in Hindi:- Software Development Life Cycle (सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट लाइफ साइकिल) या SDLC में टेस्टिंग उसके सबसे महत्वपूर्ण चरणों में से एक है। टेस्टिंग मुख्य रूप से चार प्रकार की होती है जैसे की Unit Testing (यूनिट टेस्टिंग), Integration Testing (इंटीग्रेशन टेस्टिंग),  System Testing (सिस्टम टेस्टिंग), Acceptance Testing (एक्सेप्टेंस टेस्टिंग).

Software Engineering में यूनिट टेस्टिंग के मदद से किसी एप्लिकेशन के सोर्स कोड के सबसे छोटा परीक्षण योग्य भाग जिसे की compiled और executed किया जा सकता है उसकी जाँच की जाती है। इसके कारण कोड के प्रत्येक हिस्से की कार्य क्षमता को जांचने में मदद मिलती है। यूनिट टेस्टिंग की प्रक्रिया को आमतौर पर उन्हीं सॉफ्टवेयर इंजीनियर के द्वारा किया जाता है जो उस सॉफ्टवेयर के लिए प्रोग्राम का सोर्स कोड लिख रहे थे। जबकि टेस्टिंग के बाकी सभी प्रक्रिया को सॉफ्टवेयर परीक्षक (software tester) की एक विशेष टीम के द्वारा किया जाता है।

उम्मीद है कि Unit Testing in Hindi का यह लेख आपको पसंद आया होगा, अगर आप यूनिट टेस्टिंग के इस लेख से संबंधित कोई सुझाव हमें देना चाहते तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं जिससे कि हम अपने लेख में आवश्यक परिवर्तन करके इसे और अधिक उपयोगी बना सके।

 

2

No Responses

Write a response